Skip to toolbar

What is ANGER

यदि आप को गुस्सा आता है, that’s ok-  Anger is a normal natural emotion, आप गुस्से को निकाल कर नहीं फेक सकते, लेकिन आप इसे control कर सकते हो|

Anger is an emotion like other emotions….. Happiness, sadness

Control your anger, before it controls you

So, it’s not “Bad” to feel angry?

हमेशा गुस्सा करना बुरा नहीं होता है, कभी कभी ये हमारी बात रखने का जरिया भी होता है, उस समय हमें कोई टोकने या रोकने की कोशिस नहीं करता है, और हम हमारी बात रख सकते है, लेकिन गुस्से को control करना जरुरी है, या इसे सही तरीके से इस्तेमाल करना आना चाइये|

गुस्सा सब को आता है, even छोटा बच्चा भी गुस्सा होता है, और तो और आप को ये जान कर आश्चर्य होगा की, भगवन को भी गुस्सा आता है,…. , मुझे एक किस्सा याद आ रहा है, वो में आपके साथ share करता हूँ……………

एक बार भगवन श्री राम भी गुस्सा हो गए थे, भगवन श्री राम को अपनी सेना के साथ लंका जाने के लिए समुद्र पार करना था | उस समय भगवन राम समुद्र देव को प्रसन करने के लिए उनकी पूजा करते है, लेकिन ३ दिन बित जाने पर भी जब समुद्र देव उनकी प्राथना सुनकर नहीं आते है|

तब भगवान श्री राम को गुस्सा आता है और वो समुद्र को चेतावनी देते हुए पुरे समुद्र को सुखाने के लिए धनुष पर बाण रख कर चलाने ही वाले होते है, की समुद्र देव प्रगट हो जाते है, उनसे क्षमा मांगते है और उन्हें समुद्र पार करने का तरीका बताते है|

तो कभी कभी जायज़ कारण और सबके कल्याण के लिए गुस्सा होना लाज़मी है, गुस्सा अपने स्वार्थ की पूर्ति के लिए नहीं होना चाइये|

लोगो को गुस्सा क्यों आता है – why do people get angry

  • Losing Patience – किसी की कही गयी बात को दिल से लगा लेना, उसने मुझे ऐसा कैसे कह दिया, सबके सामने मुझे बेइजत कर दिया … अब लोग मेरे बारे में क्या सोचेंगे, आप को कही जाने की जल्दी है, और आप traffic jam, में फस जाते है, आप इस पारिस्थिती में गुस्सा हो रहे है, जब की आप का इस पारिस्थिती में कोई भी control नहीं है, यदि हमारा situation  पर control नहीं है, फिर भी हम गुस्सा हो रहे है, तो हम में patience की कमी है|
  • Feeling- if your opinion or efforts aren’t appreciated :- Office में manager ने सबके सामने कुछ कह दिया, जब आपने अपना opinion दिया, जब कोई हमें ऐसा कुछ कहता है, जो हमारी नज़र में तो सही है, लेकिन सामने वाला उसे गलत मानता है, यानी हमारे belief के हिसाब से बात नहीं हो, तो हमें गुस्सा आता है, ये एक ऐसा emotion हे जिसे express करने के बाद सिर्फ और सिर्फ नुक्सान ही होता है, क्यों की गुस्सा न तो personal life में or ना ही Professional  life में अच्छा होता है |

Harm by Anger

गुस्से में कही गयी बात के लिए, हमें बाद में पछताना पड़ता है, क्यों की उस समय हम अपने दिमाग का इस्तेमाल नहीं करते है, जब हम गुस्से में होते है, उस समय हमारी जबान , हमारे दिमाग से ज्यादा तेज चलती है |

हम वो कहते है, जो हमारे belief के हिसाब से सही है, जो हमारा मन कहने को करता है, हम वो नहीं करते जो सही होता है|

कैसे एक पिता के गुस्से ने अपनी ही बेटी को चोटिल कर दिया

एक पिता  Sunday को अपनी नई गाडी को साफ़ कर रहे थे ,उसी समय उसकी बेटी गाडी के पास आती है, और किसी नुकीली pin से गाडी पे कुछ लिख रही होती है, scratch की आवाज़ सुन कर उसके पिता  गुस्से में आते है, और अपनी बेटी से  वो नुकीली pin इस प्रकार से छीनते है, की उसकी उंगली से खून आने लगता है, खून देख कर पिता का गुस्सा चला जाता है|

वो अपनी बेटी को ले कर hospital जाता है, बेटी अपने पिता से पूछती है, की पापा मेरी उंगली तो ठीक हो जाएगी ना, पिता की आँखों में आंसू आ जाते है, वो वापस अपने घर आ कर अपनी गाडी को देखता है, की उसकी बेटी उस pin  से क्या कर रही थी, जब पिता ये देखता है, की उसकी बेटी ने गाडी पर I love you Papa लिखा था, अब उसे अपने किये हुए पर पश्चाताप हो रहा था, की उसने गुस्सा क्यों किया……

You will not be punished for your anger; you will be punished by your anger.

अगले part  में हम सीखेंगे, की अपने गुस्से को कैसे control करना चायिये…..

https://www.youtube.com/changeyourlifeyoucan

6 Comments

  1. Pingback: How to control your ANGER- Part-2 - Life

Leave a Reply

%d bloggers like this: